सबसे अधिक लाभदायक विदेशी मुद्रा रणनीति

मिड कैप फंड्स क्या हैं

मिड कैप फंड्स क्या हैं
मिडकैप में पैसिव निवेश
-निफ्टी मिडकैप150
-निफ्टी मिडकैप50
-निफ्टी मिडकैप150 क्वालिटी50

Mutual Funds: इन 8 मिड-कैप फंड्स ने 3 सालों में दिए 40% तक रिटर्न, 10 हजार की SIP से बन गए 5.8 लाख, चेक करें लिस्ट

लार्ज-कैप बनाम मिड-कैप म्यूचुअल फंड

लार्ज-कैप और मिड-कैप फंडों के बारे में सुना है? लेकिन, वे एक दूसरे से (लार्ज-कैप बनाम मिड-कैप) कैसे भिन्न हैं? यह अक्सर किसी के लिए एक भ्रमित करने वाली श्रेणी होती हैइन्वेस्टर में निवेश करने की योजना बनाते समयइक्विटी फ़ंड. फिर भी, एक अच्छी बात यह है कि हम यहाँ आपके भ्रम को दूर करने के लिए हैं! तो, आइए पहले इन शब्दों को अलग-अलग और थोड़ा विस्तार से समझें।

लार्ज कैप फंड एक प्रकार का फंड होता है, जिसमें बड़ी कंपनियों के साथ प्रमुख रूप से निवेश किया जाता हैमंडी पूंजीकरण। ये अनिवार्य रूप से बड़े व्यवसायों वाली बड़ी कंपनियां हैं। लार्ज कैप स्टॉक को आमतौर पर ब्लू चिप स्टॉक के रूप में भी जाना जाता है। लार्ज कैप के बारे में एक आवश्यक तथ्य यह है कि ऐसी बड़ी कंपनियों के बारे में जानकारी प्रकाशनों (पत्रिकाओं/समाचार पत्रों) में आसानी से उपलब्ध है।

मिड कैप फंड

मिड कैप फंड मिड साइज कंपनियों में निवेश करते हैं। मिड-कैप मिड कैप फंड्स क्या हैं फंड में रखे गए स्टॉक वे कंपनियां हैं जो अभी भी विकसित हो रही हैं। मिड कैप फंड्स क्या हैं ये मध्यम आकार के कॉरपोरेट हैं जो बड़े और के बीच स्थित हैंछोटी टोपी स्टॉक। वे कंपनी के आकार, ग्राहक आधार, राजस्व, टीम के आकार आदि जैसे सभी महत्वपूर्ण मापदंडों पर दो चरम सीमाओं के बीच रैंक करते हैं।

Large Cap v/s Mid cap

बाजार पूंजीकरण

लार्ज कैप अच्छी तरह से स्थापित कंपनियों के शेयर होते हैं जिनकी बाजार पर मजबूत पकड़ होती है और आमतौर पर इन्हें सुरक्षित निवेश माना जाता है। वे ऐसी कंपनियां हैं जिनका बाजार पूंजीकरण (एमसी = कंपनी द्वारा जारी किए गए शेयरों की संख्या एक्स बाजार मूल्य प्रति शेयर) INR 10 से अधिक है,000 करोड़। मिड कैप 500 करोड़ रुपये मिड कैप फंड्स क्या हैं से 10,00 करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण वाली कंपनियां हो सकती हैं।

मिड-कैप और स्मॉल-कैप फंड्स में क्या अंतर है?

मिड-कैप और स्मॉल-कैप फंड्स में क्या अंतर है?

अगर आप सोच रहे हैं कि क्या मिड-कैप और स्मॉल-कैप फंड एक ही चीज़ है, तो आपको पक्का अक्टूबर 2017 में जारी किया गया SEBI का प्रोडक्ट कैटिगराइजेशन सर्कुलर देखना चाहिए जो जून 2018 में लागू हुआ था। ये दो अलग-अलग प्रकार के इक्विटी म्यूचुअल फंड्स हैं जो अलग-अलग तरह की कंपनियों मिड कैप फंड्स क्या हैं में निवेश करते हैं, उनके बाजार के आकार पर, और इसलिए उनका अलग-अलग जोखिम-रिटर्न प्रोफाइल होता है।

भारत में अलग-अलग एक्सचेंजों पर कई सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध कंपनियां हैं। मिड-कैप बाजार कैपिटलाइज़ेशन के आधार पर 101 वीं से 250 वीं कंपनी को रेफर करता है (बाजार कैपिटलाइज़ेशन = सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध शेयरों की संख्या * हर शेयर की कीमत), जबकि बाजार कैपिटलाइज़ेशन में 251 वीं कंपनी से लेकर आगे तक की कंपनियों को स्मॉल कैप कहा जाता है।

कोटक इमर्जिंग इक्विटी फंड

इस स्कीम के डायरेक्ट प्लान ने 3 साल में 31.11% का रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में रेगुलर प्लान से 29.47% का रिटर्न मिला है. फंड निफ्टी मिडकैप 150 टोटल रिटर्न इंडेक्स को ट्रैक करता है.

इस स्कीम के डायरेक्ट प्लान ने 3 साल में 32.09% का रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में रेगुलर प्लान से 30.14 फीसदी का रिटर्न मिला है. फंड निफ्टी मिडकैप 150 टोटल रिटर्न इंडेक्स को ट्रैक करता है.

मोतीलाल ओसवाल मिडकैप फंड

इस स्कीम के डायरेक्ट प्लान ने 3 साल में 30.97 फीसदी का रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में रेगुलर प्लान से 29.मिड कैप फंड्स क्या हैं 41 फीसदी का रिटर्न मिला है. फंड निफ्टी मिडकैप 150 टोटल रिटर्न इंडेक्स को ट्रैक करता है.

इस स्कीम के डायरेक्ट प्लान ने 3 साल में 44.29% का रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में रेगुलर प्लान से 41.76% का रिटर्न मिला है. फंड निफ्टी मिडकैप 150 टोटल रिटर्न इंडेक्स को ट्रैक करता है.

क्वांट मिड कैप फंड्स क्या हैं मिड कैप फंड

इस स्कीम के डायरेक्ट प्लान ने 3 साल में 40.56 फीसदी का रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में रेगुलर प्लान से 37.88 फीसदी का रिटर्न मिला है. फंड निफ्टी मिडकैप 150 टोटल रिटर्न इंडेक्स को ट्रैक करता है.

इस स्कीम के डायरेक्ट प्लान ने 3 साल में 33.69% का रिटर्न दिया है जबकि इसी अवधि में रेगुलर प्लान से 32.49% रिटर्न मिला है. फंड निफ्टी मिडकैप 150 टोटल रिटर्न इंडेक्स को ट्रैक करता है.

Mutual Fund की इन मिड-कैप मिड कैप फंड्स क्या हैं स्‍कीम्‍स ने दिया बंपर रिटर्न, 3 साल में डबल हो गया पैसा

Mutual Fund SIP Mid-Cap Return: म्‍यूचुअल फंड स्‍कीम्‍स में कई ऐसे मिड कैप फंड्स हैं, जिनमें निवेशकों का पैसा 3 साल में दोगुना से ज्‍यादा हो गया.

Mutual Fund SIP: म्‍यूचुअल फंड में कई ऐसी स्‍कीम्‍स हैं, जिन्‍होंने बीते कुछ सालों में ही निवेशकों का बंपर रिटर्न दिया है. इनमें इक्विटी मिड कैप फंड्स (Equity Mid-cap funds) भी हैं. म्‍यूचुअल फंड स्‍कीम्‍स में कई ऐसे मिड कैप फंड्स हैं, जिनमें निवेशकों का पैसा 3 साल में दोगुना से ज्‍यादा हो गया. मिड कैप फंड मिड साइज कंपनियों में निवेश करते हैं. ऐसी 5 स्‍कीम्‍स के बारे में जानते हैं, जिनमें निवेशकों के 1 लाख रुपये की वैल्‍यू महज तीन साल में 2 लाख रुपये या इससे ज्‍यादा हो गई.

PGIM इंडिया मिडकैप अपॉर्च्‍युनिटीज फंड (PGIM India Midcap Opportunities Fund)

PGIM इंडिया मिडकैप अपॉच्‍युनिटीज फंड ने 3 साल में 40.30 फीसदी सालाना का रिटर्न दिया है. इसमें 1 लाख रुपये का निवेश बढ़कर 2.76 लाख रुपये हो गया. वहीं, 10,000 रुपये मंथली SIP की वैल्‍यू बढ़कर 7.76 लाख रुपये हो गई है. इसमें मिनिमम निवेश 5000 रुपये का है. वहीं, मिनिमम 1000 रुपये की SIP से निवेश शुरू कर सकते हैं. इसमें एक्‍सपेंश रेश्‍यो 0.34 फीसदी है. यह स्‍कीम 2 दिसंबर 2013 को लॉन्‍च हुई थी.

क्‍वांट मिड कैप फंड ने 3 साल में 32.59 फीसदी सालाना का रिटर्न दिया है. इसमें 1 लाख रुपये का निवेश बढ़कर 2.33 लाख रुपये हो गया. वहीं, 10,000 रुपये मंथली SIP की वैल्‍यू बढ़कर 7.03 लाख रुपये हो गई है. इसमें मिनिमम निवेश 5000 रुपये का है. वहीं, मिनिमम 1000 रुपये की SIP से निवेश शुरू कर सकते हैं. इसमें एक्‍सपेंश रेश्‍यो 0.50 फीसदी है. यह स्‍कीम 1 जनवरी 2013 को लॉन्‍च हुई थी.

एडलवाइस मिड कैप फंड (Edelweiss Mid Cap Fund)

एडलवाइस मिड कैप फंड ने 3 साल में 31.16 फीसदी सालाना का रिटर्न दिया है. इसमें 1 लाख रुपये का निवेश बढ़कर 2.26 लाख रुपये हो गया. वहीं, 10,000 रुपये मंथली SIP की वैल्‍यू बढ़कर 6.64 लाख रुपये हो गई है. इसमें मिनिमम निवेश 5000 रुपये का है. वहीं, मिनिमम 500 रुपये की SIP से निवेश शुरू कर सकते हैं. इसमें एक्‍सपेंश रेश्‍यो 0.64 फीसदी है. यह स्‍कीम 1 जनवरी 2013 को लॉन्‍च हुई थी.

एक्सिस मिडकैप फंड ने 3 साल में 31.56 फीसदी सालाना का रिटर्न दिया है. इसमें 1 लाख रुपये का निवेश बढ़कर 2.28 लाख रुपये हो गया. वहीं, 10,000 रुपये मंथली SIP की वैल्‍यू बढ़कर 6.30 लाख रुपये हो गई है. इसमें मिनिमम निवेश 5000 रुपये का है. वहीं, मिनिमम 500 रुपये की SIP से निवेश शुरू कर सकते हैं. इसमें एक्‍सपेंश रेश्‍यो 0.49 फीसदी है. यह स्‍कीम 1 जनवरी 2013 को लॉन्‍च हुई थी.

SBI मैग्‍नम मिडकैप फंड (SBI Magnum Midcap Fund)

SBI मैग्‍नम मिडकैप फंड ने 3 साल में 29.46 फीसदी सालाना का रिटर्न दिया है. इसमें 1 लाख रुपये का निवेश बढ़कर 2.17 लाख रुपये हो गया. वहीं, 10,000 रुपये मंथली SIP की वैल्‍यू बढ़कर 6.47 लाख रुपये हो गई है. इसमें मिनिमम निवेश 5000 रुपये का है. वहीं, मिनिमम 500 रुपये की SIP से निवेश शुरू कर सकते हैं. इसमें एक्‍सपेंश रेश्‍यो 1.09 फीसदी है. यह स्‍कीम 1 जनवरी 2013 को लॉन्‍च हुई थी.


(नोट: मिड कैप फंड्स के रिटर्न की जानकारी वैल्‍यू रिसर्च से ली गई है. यहां सिर्फ फंड्स की परफॉर्मेंस की जानकारी दी गई है. यह निवेश की सलाह नहीं है.)

Money Guru: मिडकैप से कैसे कमाएं मुनाफा? पैसे लगाने से पहले क्या देखें? एक्सपर्ट से यहां जानें निवेश के मंत्र

Money Guru: मिडकैप फंड ऐसे म्यूचुअल फंड हैं, जो ज़्यादातर मिड कैप कंपनियों के शेयरों में निवेश करता है. आप चाहें तो इन फंड्स में पैसा लगा सकते हैं.

Money Guru: निवेश में सही फैसला बहुत मायने मिड कैप फंड्स क्या हैं रखता है. म्यूचुअल फंड्स (Mutual Funds) में निवेश करना हो लेकिन किस फंड में निवेश किया जाए या बचा जाए ये समझना जरूरी है. जानकारों का कहना है कि निवेशक चाहें तो मिडकैप फंड (mid cap fund) में निवेश कर बेहतर रिटर्न कमा सकते हैं. अब सवाल है कि मिडकैप फंड से मुनाफा कैसे कमाया जाए? फिलहाल मिडकैप फंड में निवेश करें या नहीं.निवेश से पहले किन बातों पर गौर करना जरूरी है. ऐसे तमाम सवाल हैं जिन्हें हम यहां कम्प्लीट सर्कल वेल्थ सॉल्यूशन्स के मैनेजिंग पार्टनर क्षितिज महाजन और फिनफिक्स रिसर्च के फाउंडर प्रबलीन बाजपेयी से समझ लेते हैं.

रेटिंग: 4.36
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 601
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *